बच्‍चो में कैसे दूर करें खून की कमी (एनीमिया) | Bachcho Ko Anemia Se Bachane Ke Upay | Anemia: Causes, Symptoms and Treatment-Baba Ramdev Tips

बच्‍चो में कैसे दूर करें खून की कमी (एनीमिया) | Bachcho Ko Anemia Se Bachane Ke Upay In Hindi 


नमस्कार दोस्तों! बाबा रामदेव टिप्स (Baba Ramdev Tips) की इस पोस्ट में हम आपको बताने वाले है की आप बच्चो में खून की कमी यानि की एनीमिया की समस्या को किस तरह से दूर कर सकते है जिससे आपका बच्चा पूर्णतः स्वस्थ रहे। दोस्तों हर मां यह चाहती है कि उसका बच्चा हमेशा स्वस्थ रहे । इसके लिए वह हर संभव प्रयास भी करती है । लेकिन एनीमिया बच्चों में होने वाली ऐसी स्वास्थ्य समस्या है, जिसकी ओर आम तौर पर अभिभावकों का ध्यान नहीं जाता । खान-पान की गलत आदतों की वजह से बच्चे एनीमिया यानी रक्ताल्पता के शिकार हो जाते हैं ।
Anemia: Causes, Symptoms and Treatment-Baba Ramdev Tips




जब शरीर में आयरन की कमी की वजह से लाल रक्त कोशिकाओं की कमी हो जाती है तो उसे एनीमिया कहा जाता है । वैसे यह समस्या किसी भी उम्र में हो सकती है, लेकिन बच्चों की सेहत के लिए रक्ताल्पता या एनीमिया बहुत नुकसानदेह साबित होती है । अगर लंबे समय तक एनीमिया का इलाज नहीं किया गया तो इसकी वजह से आगे चलकर बच्चे को एस्थमा, डायबिटीज, हाई ब्लड प्रेशर या ब्लड कैंसर जैसी समस्याएं भी हो सकती हैं ।

क्यों होती है एनीमिया की समस्या-कारण  (| Bachcho Ko Anaemia Hone Ke Karan


एनीमिया के लिए मुख्यतः खान-पान की गलत आदतें और आधुनिक जीवन शैली जिम्मेदार है । आजकल बच्चे हरी सब्जियां, दालें, दूध और फल नहीं खाना चाहते । और अन्य पोषक तत्वों की कमी हो जाती है, और उन्हें एनीमिया हो जाता है ।



बब्चों में एनीमिया के लक्षण Bachcho Ko Anaemia Hone Ke Lakshan


1. रोग प्रतिरोधक क्षमता का कम होना, भूख न लगना और बार-बार बुखार, सर्दी-खांसी, न्यूमोनिया जैसी समस्याएं  होना ।

2. त्वचा में फंगल इन्फेक्शन का होना ।



 

3. वजन और कद के विकास की प्रक्रिया की गति धीमी पड़ना ।

4. बाल झड़ना और आंखों के नीचे डार्क सर्कल्स बनना ।

5. एनीमिक बच्चों की आंखों की दृष्टि भी कमजोर हो जाती है और उन्हें बचपन में ही चश्मा लग जाता है ।





6. हथेलियों, पैरों के तलवे और नाखूनों की रंगत का सफ़ेद पड़ना ।

7. पेट में दर्द और लूज मोशन जैसी समस्याएं ।

8. एनीमिया से प्रभावित बच्चे अक्सर सुस्त रहते हैं और उनके चेहरे पर बाल-सुलभ रौनक नहीं दिखाई देती ।

9. एनीमिया की वजह से बच्चों के आई क्यू लेवल में भी 2 से 3 प्रतिशत की कमी आ जाती है ।

बच्चों को एनीमिया से कैसे बचाएं-घरेलु उपचार ( Bachcho Ko Anaemia Se Bachane Ke Upay)


1. अगर आपके बच्चे का हीमोग्लोबिन का लेवल 12 ग्राम से कम हो तो आप किसी कुशल शिशु रोग विशेषज्ञ को उसे दिखाएं और उसे आयरन और मल्टी विटामिन गोलियां खाने को दें । आजकल आर्गेनिक आयरन सप्लीमेंट भी आते हैं, जो बच्चों की सेहत के लिए ज्यादा फायदेमंद साबित होते हैं ।


2. बच्चों में शुरू से ही हरी पत्तेदार सब्जियां, सैलेड, आयरनयुक्त फल जैसे- केला, सेब, अनार, ड्राई फ्रूट्स, खजूर और गुड़ खाने की आदत विकसित करें ताकि उनके शरीर को पर्याप्त मात्रा में आयरन मिल सके । 


 

3. एनीमिया को दूर करने के लिए आयरन के साथ कैल्शियम, प्रोटीन, विटामिन और मिनरल्स का भी सेवन करना चाहिए । इसके लिए वे नियमित रूप से दाल और दूध का सेवन पर्याप्त मात्रा में करें । 

अगर बच्चे के खान-पान संबंधी आदतों में सुधार लाया जाए तो उनकी खून की कमी की समस्या आसानी से दूर की जा सकती है।





बच्‍चो में कैसे दूर करें खून की कमी (एनीमिया) | Bachcho Ko Anemia Se Bachane Ke Upay | Anemia: Causes, Symptoms and Treatment-Baba Ramdev Tips बच्‍चो में कैसे दूर करें खून की कमी (एनीमिया) | Bachcho Ko Anemia Se Bachane Ke Upay | Anemia: Causes, Symptoms and Treatment-Baba Ramdev Tips Reviewed by deeksha arya on 10:58 Rating: 5

No comments:

Powered by Blogger.